7GOLDEN TIPS :RAS NOTES IN HINDI 2021.. RAS NOTES बनाने का तरीका..

RAS notes... -

RAS 2021 का सपना है तो इस लेख में आपको RAS Preparation Tips पढ़ने को मिलेंगे… How to Prepare for RAS at home की रणनीति पर बताया गया है…

RAS preparation Tips

  • स्वयं के 📝 notes बनावो.
  • RPSC RAS Syllabus पर पकड़ रखें और रणनीति बनायें..
  • पिछले सालों के पेपर का ट्रेंड अनालिसिस करें.
  • लिख लिख कर याद करें..
  • रिवीजन पर भी ध्यान दें..
  • हार्ड वर्क का कोई विकल्प नहीं है पर यह हार्ड वर्क उचित रणनीति के साथ होना चाहिए…

RAS notes in hindi 2021 कैसे बनायें?

RAS notes in hindi के लिए आपको सबसे पहले RAS syllabus सामने टेबल पर रख कर पहले टॉपिक से लास्ट टॉपिक तक To the point RAS notes बनाने होंगे..

Ras notes Short में होने चाहिए ताकि RAS exam से पूर्व आसानी से रिवीजन हो सके..

जैसे आपको IGNP पर notes बनाने हैं तो भाषा मत लिखो अपने ras notes में…

उदगम, लंबाई…..मुख्य नहर, फीडर, लिफ्ट नहरें और उनके नाम, कंवरसैन. पूर्व नाम, उद्घघाटन वर्ष by…. सिंचित एरिया, शैम प्रॉब्लम और समाधान..

आगे लेख में आपको दो उदाहरण से RAS notes बनाने की कला बताने के साथ ही आपसे निवेदन करता हूँ की बाजार में मिल रहे RAS study material और RAS notes और RAS online को जितना संभव हो इग्नोर करते हुए अपने हाथों से RAS notes बनावो..

नोटस् कैसे बनाते हैं? तो मेरा जवाब है आप बस लिखना प्रारंभ कर दो बाकी अपने आप सीख जावोगे..

आरएएस नोटस् कैसे बनायें

how to make RAS notes एक बड़ी समस्या है… किसी भी पुस्तक को वैसा का वैसा लिख देना अपने आप में नोट्स नहीं है.. इस लेख में हम आपको उदाहरण दे करके preparing study notes for ras exam preparation के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे परीक्षा पूर्व आपका रिवीजन आसानी से हो सके…. यहाँ 7 tips to prepare best study notes for ras है और आप ध्यान से पढ़ें..

How to make study RAS notes in hindi

सर्वप्रथम तो मैं आपको कहूँगा की नोट्स बनाने के लिए जरूरी है कि आप जिस आधार सामग्री का चयन कर रहे हैं, वह बहुत ही प्रामाणिक विश्वसनीय हो…. इस संबंध में विषय विशेषज्ञ यह कहते हैं कि जो टॉपर्स ने विभिन्न इंटरव्यू में जो पुस्तकें या जो गाइड बतलाई है..आप उनको एक बार अपनी बुक्स लिस्ट में शामिल कर लीजिए फिर उसमें आवश्यकतानुसार कमी और वृद्धि आप कर सकते हैं….

भारतीय संविधान के लिए आपने लक्ष्मीकांत पुस्तक का चयन कर रखा है और उसमें से आपको नोट्स बनाने हैं… उदाहरण के लिए हम भारत के नियंत्रक महालेखा परीक्षक CAG को एक टॉपिक के रूप में ले लेते हैं… अब आप नोट्स बना रहे हैं तो मतलब यह नहीं समझे कि पूरी की पूरी किताब को हूबहू नोट्स में शामिल कर देनी है.. अब आपको उस पुस्तक के 3 पेज को आपको मुश्किल से आधे पेज के लगभग कर देना है …. Uk से प्रेरित,संविधान के 148 से 150 तक में वर्णित.. नियुक्ति, tenure, सार्वजनिक धन का प्रहरी, PAC का मित्र, कार्य यह देखना कि कार्यपालिका द्वारा किया खर्च विधायिका द्वारा दी गयी अनुमति अनुसार, उसी मद  में, proper ऑफिसर द्वारा मितव्ययिता और नियमानुसार वैधता के साथ हो रहा है.. First कैग नरहरि राव और वर्तमान में…..आलोचना वॉचडाग और postmartam. अब तक CAG के कार्यों के  अति चर्चा उदाहरण जैसे 2 G और अन्य… first administrative कमिशन रिपोर्ट की सिफारिश पर एकाउंटिंग से अब प्रथक् है और अब audditing का काम है… अब आपको कोई  फैक्ट कहीं से मिलता है तो 📝 में जोड़ते जाएँ..

CAG का आपका ras notes  है.  अब कोई अपडेट या किसी प्रिय पुस्तक से और कोई सामग्री मिलती है, तो अतिसंक्षेप में उसका भी वह फैक्ट जोड़ते चले जाए ..परीक्षा से पूर्व जब आपको पढ़ना होगा तो आप मुश्किल से एक मिनट में आप का नियंत्रक महालेखा परीक्षक कंप्लीट हो जाएगा…

RAS notes 1857 की क्रांति

1857 गदर/ क्रांति……स्वरूप : सावरकर- स्वतंत्रता संग्राम, सैनिक विद्रोह- सीले …मुस्लिम विद्रोह outram …प्रथम स्वतंत्रता संग्राम….सुनियोजित षड्यंत्र………….फिर कारण जैसे: तात्कालिक,आर्थिक,सामाजिक,धार्मिक आदि…फिर विद्रोह कैसे और कहाँ फैला समय के रेफरेंस में बढ़ते क्रम में..कहाँ पर किसने नेतृत्व किया और अंग्रेज ऑफिसर कौन जैसे झाँसी में हुरोज..कानपुर में कम्पवेल…1857 के विद्रोह के परिणाम:  ईस्ट इंडिया कंपनी का शासन खत्म और ताज़ का शासन प्रारंभ.. भारत मंत्री और भारत सचिव और परिषद का गठन.. शासन में भारतीयों की भागीदारी प्रारंभ करने का आश्वासन… 1861 का एक्ट से प्रारंभ….  राजनीतिक, सामाजिक और आर्थिक प्रभाव का उल्लेख… विफलता के कारण शॉर्ट में… मतलब यह है कि 1857 गदर आपके पास में अधिकतम 1 पेज में होना चाहिए …

RAS Notes का सार

RAS notes का सार है की आपके ras notes बहुत ही शॉर्ट और क्वालिटी बुक्स से बने होने चाहिए… एक पुस्तक को आधार बनाकर 📝 बनायें और नया तथ्य मिलने पर उसमें जोड़ते जाएँ…

Share on facebook
Facebook
Share on twitter
Twitter
Share on linkedin
LinkedIn
Share on whatsapp
WhatsApp
Share on telegram
Telegram
Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on telegram

RECENT POSTS

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

RECENT POSTS